KRIDA NEWS

Search
Close this search box.

KRIDA NEWS

ICC World Cup 2023 नहीं दिखेंगे दो बार के वर्ल्ड चैंपियन, वर्ल्ड कप के इतिहास में 48 साल में पहली बार हुआ जब ODI वर्ल्ड कप बिना वेस्टइंडीज टीम के खेली जाएगी

ICC World Cup 2023 के लिए वेस्टइंडीज की टीम क्वालिफाइ नहीं कर सकी। ऐसा 48 साल में पहली बार होगा जब वेस्ट इंडीज की टीम वर्ल्ड कप नहीं खेलेगी। 1975 और 1979 के वर्ल्ड कप विजेता टीम के लिए 1 जूलाई 2023 काले दिन के रूप में सामने आई। क्वालिफाइंग मुकाबले के सुपर सिक्स में स्कॉटलैंड ने 7 विकेट से हराकर वेस्टइंडीज को वर्ल्ड कप से बाहर कर दिया।

स्कॉटलैंड के खिलाफ शनिवार को वेस्टइंडीज की बल्लेबाजी नहीं चली। पूरी टीम 43.5 ओवर में 181 रन पर आउट हो गयी। स्कॉटलैंड ने 6.3 ओवर बाकी रहते तीन विकेट के नुकसान पर लक्ष्य हासिल कर लिया। यह वेस्टइंडीज के खिलाफ चार मैचों में स्कॉटलैंड की पहली जीत है। लक्ष्य का पीछा करते हुए मैट क्रास (107 गेंद में नाबाद 74) और ब्रेंडन मैकमुलेन (106 गेंद में 69 रन) ने दूसरे विकेट के लिए 125 रन की साझेदारी कर टीम की जीत की नींव रखी।

स्कॉटलैंड के इस जीत से चार अंक हैं और वह उम्मीद करेगी कि कोई उलटफेर उन्हें टूर्नामेंट के लिए क्वालीफाई करवा दे। अब दो और मैच ही बचे हैं और अगर वेस्टइंडीज जीत भी जाती है तब भी वह चार अंक तक ही पहुंच पायेगी जबकि श्रीलंका और जिम्बाब्वे के तीन मैचों में छह छह अंक हैं। वेस्टइंडीज को इससे पहले ग्रुप चरण में सुपर ओवर तक चले मुकाबले में नीदरलैंड ने हराया था। टीम को इसके बाद जिम्बाब्वे के खिलाफ भी शिकस्त मिली थी।

ऐसा पहली बार होगा जब 1975 से शुरु हुए वनडे विश्व कप में वेस्टइंडीज टीम नहीं खेलेगी। वनडे विश्व कप पांच अक्टूबर से भारत में 10 स्थलों में खेला जायेगा। क्लाइव लॉयड की वेस्टइंडीज टीम ने विश्व कप के पहले दो चरण में ट्राफी जीती थी और 1983 का फाइनल खेला था जिसमें भारत ने उसे शिकस्त दी थी।

पिछले दो दशक से वेस्टइंडीज के क्रिकेट में गिरावट आ रही थी। उन्होंने 2012 और 2016 में दो टी20 विश्व कप जीते थे लेकिन टेस्ट और वनडे में उनका प्रदर्शन गिरता ही जा रहा था। विडंबना यह है कि वेस्टइंडीज को 2019 विश्व कप से पहले भी क्वालीफायर खेलने के लिए मजबूर होना पड़ा था, लेकिन अंत में वह खुद को शर्मिंदगी से बचाने में सफल रहा और उसने अफगानिस्तान के साथ शीर्ष दो में रहकर क्वालीफाई किया। जिम्बाब्वे और नीदरलैंड के सुपर सिक्स में क्वालीफाई करने के कारण वेस्टइंडीज की टीम इस चरण में बिना किसी अंक और खराब नेट रन रेट के साथ पहुंची थी।

Read More

Yuzvendra Chahal ने रचा इतिहास, IPL में ऐसा करने वाले पहले गेंदबाज बने, विकटों का लगाया दोहरा शतक

भारत और राजस्थान रॉयल्स के लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) ने सोमवार को इंडियन प्रीमियर लीग में 200 विकेट पूरे करने वाला पहला गेंदबाज बनकर इतिहास रच दिया।दाएं हाथ के इस लेग स्पिनर ने यहां सवाई मानसिंह स्टेडियम में राजस्थान रॉयल्स और मुंबई इंडियंस के बीच आईपीएल मुकाबले की पहली पारी के दौरान अफगानिस्तान के बल्लेबाज मोहम्मद नबी को आउट कर यह उपलब्धि हासिल की। चहल ने अपनी ही गेंद पर नबी का कैच लपका।

2013 में किया डेब्यू
चहल ने आईपीएल 2013 में डेब्य किया था। अब तक वह 153 मैच खेल चुके हैं। इनकी 152 पारियों में उन्होंने अपनी घातक गेंदबाजी से 200 विकेट हासिल किए हैं। उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 40 रन देकर पांच विकेट हासिल करना रहा है। वह 7.71 के इकोनॉमी रेट से रन खर्च करते हैं। चहल अब तक मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर सहित तीन टीमों के लिए खेल चुके हैं।चहल पिछले साल चेन्नई सुपर किंग्स के पूर्व गेंदबाज ड्वेन ब्रावो (161 मैचों में 183 विकेट) को पीछे छोड़कर आईपीएल के सबसे सफल गेंदबाज बने थे।

आईपीएल में ऐसा करने वाले पहले गेंदबाज
50 विकेट: आरपी सिंह (12 अप्रैल 2010)
100 विकेट: लसिथ मलिंगा (18 मई 2013)
150 विकेट: लसिथ मलिंगा (6 मई 2017)
200 विकेट: युजवेंद्र चहल (22 अप्रैल 2024)

युजवेंद्र चहल टी20 इंटरनेशनल मैचों में सबसे अधिक विकेट लेने वाले भारतीय हैं। उन्होंने 80 टी20 इंटरनेशनल मैचों में 96 विकेट लिए हैं। इस लिस्ट में दूसरे भारतीय भुवनेश्वर कुमार हैं, जिनके नाम 90 विकेट दर्ज हैं। वर्ल्ड क्रिकेट की बात करें तो इस मामले में न्यूजीलैंड के टिम साउदी नंबर-1 हैं। उन्होंने 123 मैच में 157 विकेट झटके हैं।

दिलचस्प बात यह है कि युजवेंद्र चहल को टी20 क्रिकेट का स्पेशलिस्ट गेंदबाज माना जाता है। युजी के आंकड़े इस बात की गवाही भी देते हैं कि उन्हें जब-जब मौका मिला है, तो वह उम्मीद पर खरे उतरे हैं। इसके बावजूद युजी को टी20 वर्ल्ड कप में एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला है। उन्हें 2022 में हुए टी20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में शामिल भी किया गया था, लेकिन प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिली। अब देखना है कि युजी को जून में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप में खेलने का मौका मिलता है या नहीं।

Read More

Virat Kohli को अंपायर से उलझना पड़ा भारी, नो बॉल को लेकर की थी बहर, अब BCCI ने लगा दी भारी जुर्माना

स्टार बल्लेबाज विराट कोहली (Virat Kohli) पर सोमवार को कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के खिलाफ रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) के इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) मैच के दौरान अंपायर के फैसले पर असहमति दिखाने के लिए उनकी मैच फीस का 50 प्रतिशत जुर्माना लगाया गया। कोहली लक्ष्य का पीछा करते हुए तीसरे ओवर में हर्षित राणा की फुलटॉस गेंद पर आउट करार दिये गये थे। इस गेंदबाज ने ही कोहली का कैच लपका। इस मैच में केकेआर की टीम ने रविवार को सात विकेट पर 222 रन बनाने के बाद एक रन से रोमांचक जीत दर्ज की।

इंडियन प्रीमियर लीग में नो-बॉल को ऊंचाई से मापने वाली ‘हॉक-आई प्रणाली’ लागू है। इसके तहत क्रीज में बल्लेबाज के कमर की ऊंचाई से गेंद की ऊंचाई का आकलन कर नो बॉल का फैसला किया जाता है। कोहली के बल्ले से जब गेंद का संपर्क हुआ था तब गेंद उनके कमर के ऊपर की ऊंचाई पर थी। वह हालांकि इस समय क्रीज से बाहर थे और गेंद नीचे की ओर आ रही थी।

टीवी अंपायर माइकल गॉफ ने ऊंचाई की जांच की और हॉक-आई ट्रैकिंग के अनुसार, अगर कोहली क्रीज में होते तो गेंद कमर के पास 0.92 मीटर की ऊंचाई से गुजरी होती । इस स्थिति में गेंद कोहली की कमर की ऊंचाई से नीचे होती। ऐसे में गॉफ ने बॉल ट्रैकिंग के पैमाने पर गेंद की ऊंचाई को कोहली की कमर की ऊंचाई से नीचे पाया और उन्हें आउट करार दिया। कोहली हालांकि इस फैसले से सहमत नहीं दिखे उन्होंने गुस्से जैसी प्रतिक्रिया के साथ मैदानी अंपायर से बात की। मैदान से बाहर निकलने के बाद भी उनके चेहरे पर निराशा देखी जा सकती थी।

आईपीएल से जारी बयान के मुताबिक, ‘‘ रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के बल्लेबाज विराट कोहली पर ईडन गार्डन्स, कोलकाता में 21 अप्रैल 2024 को कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ टाटा इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2024 की मैच संख्या 36 के दौरान आईपीएल आचार संहिता का उल्लंघन करने के लिए उनकी मैच फीस का 50 प्रतिशत जुर्माना लगाया गया है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ कोहली ने आईपीएल की आचार संहिता के अनुच्छेद 2.8 के तहत लेवल एक का अपराध किया है। उन्होंने अपराध स्वीकार कर और मैच रेफरी की सजा को मान लिया।’’ बयान में कहा गया है, ‘‘आचार संहिता के लेवल एक के उल्लंघन के लिए, मैच रेफरी का निर्णय अंतिम और बाध्यकारी होता है।’’ आईपीएल की आचार संहिता के अनुच्छेद 2.8 के तहत लेवल एक का अपराध ‘अंपायर के फैसले पर असहमति दिखाना’ है।

Read More

बिहार सीनियर अंतर जिला क्रिकेट टूर्नामेंट (हेमन ट्रॉफी) में शेखपुरा ने नवादा को 7 विकेट से हराया, सूरज विजय ने चटकाए 5 विकेट

बिहार क्रिकेट एसोसिएशन के तत्वावधान में आयोजित बिहार सीनियर अंतर जिला क्रिकेट टूर्नामेंट (हेमन ट्रॉफी) में शेखपुरा ने नवादा को हराया। एकंरगडीह में खेले गए मुकाबले में शेखपुरा के गेंदबाजों ने नवादा के बल्लेबाजों को सस्ते में समेट दिया और 3 विकेट खोकर मुकाबले को 7 विकेट से जीत लिया।

टॉस जीतकर शेखपुरा ने पहले गेन्दबाजी करने का निर्णय लिया। नवादा ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 25 ओवर में 10 विकेट खोकर मात्र 105 रन बनाये। नवादा की ओर से दीपक ने 25 रन, सचिन ने 16 रन, रोहित और कुंदन ने 12-12 रन बनाये। शेखपुरा की ओर से सूरज विजय ने 5 विकेट लिए, मोहम्मद सत्तार और नवाज़ खान ने दो-दो और अमरजीत ने एक विकेट लिए।

जवाब में खेलते हुए शेखपुरा ने 3 विकेट खोकर 18.2 ओवर में लक्ष्य प्राप्त कर लिया। शेखपुरा की ओर से सचिन ने नाबाद 48 रन, सोनू कुमार ने 26 रन, हिमांशु ने 12 रन और मंजीत ने 12 रन बनाये। नवादा की ओर से ऋषि, आदर्श एंव ऋतिक ने एक एक विकेट लिए। शेखपुरा के सूरज विजय को मैन ऑफ़ द मैच दिया गया।

मैच के दौरान अध्यक्ष शैलेन्द्र कुमार, कोषाध्यक्ष मनोरंजन कुमार, पूर्व सचिव सय्यद मोहम्मद जावेद इक़बाल, क्लब प्रतिनिधि गोपाल सिंह, मीडिया कमिटी चेरमैन शांतोष पांडेय, विजय प्रकाश उर्फ़ पिन्नु जी, अम्पायर परवेज़ मुस्तफा, दीपक कुमार, बिक्रम सोलंकी, क्षितिज, गौतम इत्यादि मौजूद रहे।

Read More

बिहार टेनिस बॉल क्रिकेट एसोसिएशन का मीटिंग संपन्न, विजय कुमार को महिला टेनिस बॉल क्रिकेट का कन्वेनर बनाया गया

बिहार टेनिस बॉल क्रिकेट एसोसिएशन की बैठक पटना के गर्दनीबाग में आयोजित की गई। बैठक पटना टेनिस बॉल क्रिकेट एसोसिएशन के प्रांगण में पटना के सचिव प्रवीण सिन्हा के नेतृत्व में हुआ। इस बैठक की अध्यक्षता संघ के अध्यक्ष विजय शर्मा ने की। इस बैठक में सभी सभी जिलों के पदाधिकारियों के साथ चर्चा की गई कि बिहार में टेनिस क्रिकेट का विकास कैसे हो और किस तरह से हो।

इस बैठक के दौरान कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए। जो आने वाले समय में लागू किया जाएगा। टेनिस क्रिकेट के विकास के लिए सभी जिला के पदाधिकारियों ने अपनी बात रखी। कुछ ने संघ को बताया कि हमें लगातार क्रिकेट करवाते रहना होगा। जिससे जिला क्रिकेट संघ के साथ-साथ बिहार क्रिकेट संघ का भी नाम बढ़ता जाए। पुरुष के साथ-साथ महिला के मैच भी लगातार होने चाहिए, जिससे सभी का ध्यान आकर्षित हो सके।

वहीं सचिव उमर खान ने बिहार की टीम को राष्ट्रीय चैंपियनशिप की जीत पर सभी पदाधिकारियों को बधाई दी और कहा कि उम्मीद करते हैं कि बिहार के खिलाड़ी इसी तरह अपना परचम लहराते रहेंगे। इसके बाद उन्होंने महिला टीम को बढ़ावा देने के लिए भोजपुर के कुमार विजय को बिहार महिला टीम का कन्वेनर बनाया गया।

इस बैठक में अध्यक्ष विजय शर्मा, उपाध्यक्ष संजीव शर्मा, सचिव उमर खान, संयुक्त सचिव सूफी खान और विजय जी मौजूद रहे। इसके साथ ही कई जिलों के पदाधिकारी भी मौजूद रहे।

Recent Articles

Subscribe Now
Do you want to subscribe to our newsletter?

Fill this form to get mails from us.